तकनीकी दुनियाँ -->

tech world

Nice Post

.समर्थक.

ब्लॉगर. Blogger द्वारा संचालित.

Subscribe via email

New Article Via Email Enter Your Email

शनिवार, 17 सितंबर 2011

रेड्डी के रिश्तेदार के बैंक लॉकरों से नकदी, आभूषण जब्त

by pinky joshi 1 टिप्पणियाँ

पिंकी जोशी : खनन कारोबारी जी. जनार्दन रेड्डी के ओबुलापुरम खनन कम्पनी के प्रबंध निदेशक बी. श्रीनिवास रेड्डी के कई बैंक लाकरों से शनिवार को नकदी, स्वर्ण आभूषण और दस्तावेज जब्त किए। इसके अलावा पुलिस ने जनार्दन रेड्डी के वाहन चालक के आवास से चार लाख रुपये जब्त किए।

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के सूत्रों ने बताया कि जांच एजेंसी ने एक्सिस बैंक की एक शाखा के लाकरों से करीब 10 लाख रुपये, स्वर्ण आभूषण और भूमि दस्तावेज जब्त किए। भूमि दस्तावेजों के मुताबिक रेड्डी ने कर्नाटक और पड़ोसी राज्य आंध्र प्रदेश में भूमि ख्ररीदी है।

ज्ञात हो कि बैंक लाकरों को खोलने में मदद के लिए जनार्दन रेड्डी के साले श्रीनिवास रेड्डी को शनिवार तड़के हैदराबाद से रेड्डी बंधुओं के राजनीतिक गढ़ बेल्लारी लाया गया।

सूत्रों ने बताया कि बैंक के दो लाकरों को तोड़ना पड़ा क्योंकि श्रीनिवास रेड्डी और बैंक दोनों ने कहा कि लाकरों की चाबी गुम हो गई है।
View Image in New Window
आंध्र प्रदेश पुलिस ने जनार्दन रेड्डी के वाहन चालक के आवास से चार लाख रुपये जब्त किए। पुलिस ने अवैध खनन मामले में एक पूर्व सरकारी अधिकारी के रिश्तेदारों के आवासों की भी तलाशी ली।

पुलिस ने अनंतपुर शहर में कर्नाटक के पूर्व मंत्री के वाहन चालक बाशा के घर की तलाशी ली और वहां से चार लाख रुपये, दो किलोग्राम चांदी की सामग्री और कुछ दस्तावेज जब्त किए।

सूत्रों ने बताया कि पुलिस चालक से पूछताछ कर रही है। इसके अलावा पुलिस ने खनन विभाग के पूर्व निदेशक वी.डी. राजगोपाल के आवासों की तलाशी ली और वहां से कुछ दस्तावेज जब्त किए।

ज्ञात हो कि तलाशी अभियान ऐसे समय में चलाया गया जब अनंतपुर जिला स्थित एक न्यायालय ने शनिवार को ट्रक चालक वेंकटरामी रेड्डी और उसके सहायक ईश्वर रेड्डी को पुलिस हिरासत में भेजा है। इनके ट्रक से तीन बैगों में 4.9 करोड़ रुपये बरामद हुए।

पुलिस ने इन दोनों को अनंतपुर जिले के गुंतकाल में गुरुवार को गिरफ्तार किया। दोनों कर्नाटक के बेल्लारी जिले से नकदी आंध्र प्रदेश पहुंचाने जा रहे थे। उन्होंने पूछताछ में कथित रूप से बताया कि यह नकदी ओबुलापुरम खनन कम्पनी (ओएमसी) के प्रबंध निदेशक बी.वी. श्रीनिवास रेड्डी की है जो जनार्दन रेड्डी के साथ केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की हिरासत में हैं।

  pinky joshi


शनिवार, 10 सितंबर 2011

क्या आप जानते हैं....

by pinky joshi 0 टिप्पणियाँ


View Image in New Window
क्या आप जानते हैं कि इस ग्रह पर कुल कितनी जीव प्रजातियां हैं? वर्ष 1691 में वैज्ञानिक जॉन रे ने अनुमान लगाया था कि इस ग्रह पर कीटों की 20,000 प्रजातियां हैं। जॉन रे की यह संख्या काफी पीछे छूट चुकी है, क्योंकि अब तब लगभग 10 लाख तरह के कीटों के विवरण आ चुके हैं। लेकिन जॉन जिस तरीके से उस संख्या तक पहुंचे थे, उसी तरीके का इस्तेमाल आज भी ज्यादातर वैज्ञानिक कर रहे हैं। तीन शताब्दी बाद भी इस ग्रह की जीव प्रजातियों की कुल संख्या को लेकर वैज्ञानिकों की कोई एकराय नहीं है। इस संदर्भ में डलहौजी यूनिवर्सिटी के हालिया अध्ययन में वैज्ञानिकों ने यह निष्कर्ष निकाला है कि पृथ्वी पर लगभग 80 लाख 70 हजार जीव प्रजातियां हैं। इस टीम ने जीव प्रजातियों, वंशों, परिवार और सुपरिचित जीवन रूपों के बीच सांख्यिकीय संबंधों का विश्लेषण किया और उस पैटर्न का इस्तेमाल प्रजातियों की संख्या का आकलन उन जीवन श्रेणियों में करने के लिए किया, जिनके बारे में अब तक कोई खास जानकारी नहीं है। बहरहाल, 253 वर्षो में, जबसे लिनीयस ने जीवों के नामकरण की पद्धति की खोज की है, हम लगभग सवा दस लाख प्रजातियों के बारे में ही विवरण जुटा पाए हैं। इसका मतलब यह है कि यदि वास्तव में पृथ्वी पर 80 लाख 70 हजार जीव प्रजातियां हैं, तो इनमें से लगभग 90 प्रतिशत के बारे में हम कुछ भी नहीं जानते। अध्ययन के मुताबिक, इन सबके बारे में विस्तृत वैज्ञानिक विवरण जुटाने में अभी 1,200 वर्ष और लगेंगे। और जिस गति से हम जीव प्रजातियों को खोते जा रहे हैं, उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि आज की अनेक प्रजातियों का अस्तित्व तब तक खत्म हो चुका होगा। और फिर 80 लाख 70 हजार जीव प्रजातियों में बैक्टिरिया को शामिल नहीं किया गया है, जिनकी संख्या भी लाखों में हो सकती है। इसलिए यह मानने में कोई हिचक नहीं होनी चाहिए कि हम पृथ्वी पर जीवन के बारे में अपनी जानकारी के जितने भी दावे करें, हकीकत यही है कि हम उसके बारे में लगभग कुछ भी नहीं जानते।
पिंकी जोशी


बुधवार, 31 अगस्त 2011

अग्निपथ जैसी फ़िल्म का निर्देशन नहीं कर सकता

by pinky joshi 0 टिप्पणियाँ


View Image in New Window पिंकी जोशी :फ़िल्ममेकर करण जौहर कहते हैं कि वो अग्निपथ जैसी मार-धाड़ वाली फ़िल्म का निर्देशन कभी नहीं कर सकते.
पिछले कुछ सालो में बतौर निर्माता-निर्देशक ‘कुछ कुछ होता है’कभी ख़ुशी कभी ग़म’, ‘कभी अलविदा न कहना’ माई नेम इज़ ख़ान’ और ‘दोस्ताना’ जैसी रोमांटिक या प्रेम कहानी पर आधारित फ़िल्में बनाने वाले करण जौहर का इशारा फ़िल्म में हिंसा और ऐक्शन की ओर है.
करण के पिता, निर्माता-निर्देशक यश जौहर ने 1990 में अग्निपथ बनाई थी जिसका निर्देशन मुकुल आनंद ने किया था. फ़िल्म बदले की कहानी थी जिसमें अमिताभ बच्चन एक गैंगस्टर बने थे और इसमें काफ़ी हिंसा थी.
अब करण इस फ़िल्म का रीमेक बना रहे हैं. फ़िल्म के निर्देशक नवोदित करण मल्होत्रा हैं.
सोमवार को मुम्बई में नई ‘अग्निपथ’ के फ़र्स्ट लुक के लॉन्च के मौके पर करण जौहर ने माना कि इस फ़िल्म के साथ उनकी कंपनी, धर्मा प्रोडक्शन, रोमांस से हटकर अलग तरह की फ़िल्म बना रही है.
उनका कहना था, मैं कभी भी इस तरह की फ़िल्म का निर्देशन नहीं कर सकता था. मेरी फ़िल्मों में ऐक्शन का सिर्फ़ एक ही वाक्या रहा है जब कभी ख़ुशी कभी ग़म’ में अमिताभ बच्चन हृतिक रोशन को थप्पड़ मारते हैं. ऐक्शन या हिंसा की बात करें तो अग्निपथ के रीमेक में एक थप्पड़ से कहीं ज़्यादा हिंसा है. लेकिन जब से मैं 1998 में धर्मा प्रोड्क्शन से जुड़ा हूं, हमने ऐसी फ़िल्म नहीं बनाई है. मैं उम्मीद करता हूं कि करण मल्होत्रा जैसे और भी निर्देशक धर्मा प्रोड्क्शन के लिए फ़िल्में बनाएं ताकि हमारी कंपनी सभी तरह का फ़िल्में बनाए.
नई फ़िल्म में अमिताभ बच्चन का किरदार, विजय दीनानाथ चौहान, हृतिक रोशन और डैनी डैंगज़ोगपा का किरदार, कांचा चीना, संजय दत्त निभा रहे हैं.
View Image in New Window
लेकिन करण जौहर और निर्देशक करण मल्होत्रा की माने तो नाम के अलावा नई और पुरानी अग्निपथ में कोई समानता नहीं है. निर्देशक करण मल्होत्रा कहते हैं, फ़िल्म का प्लॉट वही है. ये फ़िल्म भी पुरानी फ़िल्म की ही तरह मांडवा में शुरु होकर वहीं ख़त्म होती है. लेकिन उसके अलावा सब कुछ नया और अलग है.”
करण जौहर भी कहते हैं कि उनकी फ़िल्म पुरानी अग्निपथ का रीमेक नहीं है. उन्होंने कहा, “ये फ़िल्म मुकुल आनंद और यश जौहर को हमारी श्रृद्धाजंलि है. अमिताभ बच्चन उन लोगों में से हैं जिन्हें मैं सबसे पहले फ़िल्म दिखाना चाहूंगा और मुझे यक़ीन है कि उन्हें ये फ़िल्म ज़रूर पसंद आएगी.
हृतिक रोशन कहते हैं कि जिस तरह से करण मल्होत्रा ने उन्हें फ़िल्म और रोल के बारे में बताया, उन्हें ये एक बिल्कुल नई फ़िल्म लगी जिसकी किसी भी पुरानी फ़िल्म से तुलना नहीं हो सकती.
वहीं संजय दत्त से जब पूछा गया कि वो अपने और डैनी डैंगज़ोंगपा के किरदार में कितनी समानता या फ़र्क देखते हैं, तो उन्होंने बहुत हल्के-फुल्के अंदाज़ में इसका जवाब कुछ यूं दिया, “मैं सिर्फ़ यही कहना चाहता हूं कि डैनी साहब के अग्निपथ में बाल थे, मेरे नहीं हैं.

इन दोंनो के अलावा फ़िल्म में ऋषि कपूर और प्रियंका चोपड़ा भी मुख्य भूमिकाओं में नज़र आ रहे हैं.
ऋषि कपूर का किरदार पुरानी फ़िल्म में नहीं था. वो पहली बार एक पूरी तरह से नकारात्मक रोल में दिखेंगे.
अपने रोल के बारे में ऋषि कपूर का कहना था, मुझे इस फ़िल्म में अपने लिए कोई रोल नहीं लगा था. मुझे लगा कि मुझे मिठुन चक्रवर्ती का रोल देना चाहते हैं. लेकिन ये रोल पूरी तरह करण मल्होत्रा का आयडिया है. जब उन्होंने मुझे रोल सुनाया तो मुझे लगा वो मुझसे मज़ाक कर रहे हैं. मैंने उनसे कहा कि मैं आपको किस तरह से इतना ख़राब आदमी दिखता हूं. मैं उनसे कहा कि अगर ये फ़िल्म नहीं चली तो वो सिर्फ़ मेरी वजह से होगा. लेकिन उनकी और करण जौहर दोंनो की ज़िद थी कि मैं ये रोल करूँ.
नई 'अग्निपथ' में मिठुन चक्रवर्ती का किरदार नहीं है. फ़िल्म जनवरी 2012 में रिलीज़ होगी.



पहली बार लिया महिला होने का आनंद, बोल्ड सीन देने में नो प्रॉब्लम

by pinky joshi 0 टिप्पणियाँ


फिल्म 'द डर्टी पिक्चर' में दिए गए अब तक के सबसे बोल्ड सीन के बारे में बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री विद्या बालन का कहना है कि इस फिल्म की शूटिंग के दौरान बोल्ड सीन करने में उन्हें असहज कभी नहीं महसूस हुआ क्योंकि फिल्म का निर्देशन मिलन लूथरिया के 'विश्वसनीय हाथों' में था।


विद्या ने मंगलवार को संवादाताओं को बताया, "शूटिंग के दौरान पहली बार मैंने महिला होने का आंनद उठाया। बोल्ड सीन देने में मुझे कोई दिक्कत नहीं हुई क्योंकि मुझे निर्देशक पर पूरा भरोसा था।" इस फिल्म में तुषार कपूर, इमरान हाशमी और नसीरुद्दीन शाह जैसे कलाकार हैं।


फिल्म 'इश्किया' में अनुभवी अभिनेता के साथ काम कर चुकी विद्या ने कहा, "इसके पहले मै नसीरुद्दीन के साथ काम कर चुकी हूं लेकिन इस बार यह काफी आसान रहा..इस बार मुझे इश्किया की तरह घबराहट नहीं हुई।"
View Image in New Window

इस फिल्म में बॉलीवुड के सीरियल किसर इमरान हाशमी के साथ काम करने पर विद्या ने बताया, "पहले मै सोच रही थी कि इमरान के साथ काम करना कैसा रहेगा लेकिन उनके साथ काम करने में काफी आनंद आया।"


यह फिल्म दो दिसम्बर को प्रदर्शित की जाएगी। फिल्म के ट्रेलर में दर्शकों को भरोसा दिलाया जाता है कि विद्या को इस फिल्म में एक नए अवतार के रूप में देखा जाएगा जिसे अब तक नहीं देखा गया है।
  पिंकी जोशी 


सोमवार, 22 अगस्त 2011

ब्लॉग पर विभिन भाषा में अनुवाद करने वाला फ्लेग विजेट लगाये

by pinky joshi 1 टिप्पणियाँ

पिंकी जोशी : ब्लॉग पर ३६ भाषा में ब्लॉग सामग्री को उचारण करने वाला बिजेट  लगाये ।

ब्लॉग का हिंदी या किसी भाषा विशेष में होना उस भाषा का ज्ञान रखने वाले के लिए आम है
 मगर देश से अन्यत्र किसी पाठक द्वारा ब्लॉग के खोलने पर भाषाई बंधन के कारण अधिक समय तक ब्लॉग पर बने रहना बेहत पेचीदा काम है.
इसीलिए बेहतर ये है की ब्लॉग पर भाषा को उच्चारित करने वाला यह बिजेट लगाया जाये जिसे अन्यत्र देश के पाठको को ब्लॉग को पढने में सहूलियत हो ।


 इस बिजेट  को ब्लॉग पर लाने के लिए नीचे बताई प्रक्रिया देखे


अपने ब्लॉगर खाते में प्रवेश करे Blogger

अब Layout>Add a Gadget -> HTML/Javascript पर जाये


यहाँ पर नीचे बताये पूरे कोड को पेस्ट करे व परिवर्तन सेव करे ।





<div id="google_translate_element"></div><script>

function googleTranslateElementInit() {

new google.translate.TranslateElement({

pageLanguage: 'en'

}, 'google_translate_element');

}

</script><script src="http://translate.google.com/translate_a/element.js?cb=googleTranslateElementInit"></script>

ब्लॉग पर यह बिजेट कुछ ऐसा दिखाई देगा 
















 |  |  |  |  |  |  |



 |  |  |  |  |  |




 |  |  |  |  |  |  |




 |  |  |  |  |  |  |



 |  |  |  |  |  | 

यहां आप तकनीकी जानकारी ले सकते है 


सोमवार, 15 अगस्त 2011

अपना ईमेल लिखें अपनी ,हस्तलिपि, में

by pinky joshi 2 टिप्पणियाँ


पिंकी जोशी : पीसी के बढते चलन, टेलिफोन और मोबाइल फोनों की भरमार और इंटरनेट की सहज सुलभता ने हाथों से लिखी जाने वाली चिट्ठियों के जमाने को भूला दिया है. आज कल शायद ही कोई होगा जो हाथों से चिट्ठी लिखकर भेजता होगा.

ऐसे में यदि आपको वह आत्मीय अनुभव की याद आ रही है और ईच्छा जागृत हो रही है कि आप ईमेल भी अपनी हस्तलिपि में लिखें तो इस साइट की मदद ले सकते हैं.View Image in New Window
पेन बनाने वाली कम्पनी पायलट द्वारा प्रायोजित यह साइट प्रयोक्ताओं को अपनी हस्तलिपि के अनुसार फोंट बनाने की सुविधा प्रदान करती है. उस नए फोंट का इस्तेमाल आप चिट्ठी लिखने के लिए कर सकते हैं.इसके लिए सबसे पहले आपको इस साइट पर जाकर पंजीकरण करना होगा. इसके बाद यहाँ दी गई एक टेम्पलेट को डाउनलोड कर उसका प्रिंट आउट निकालना होगा. यह एक A4 साइज की शीट होगी. इस पर एक ग्रिड बना होगा जिस पर अंग्रेजी के 26 मूलाक्षर और 10 अंक अंकित होंगे. आपको उन मूलाक्षरों के पास अपनी हस्तलिपि में वही मूलाक्षर लिखने होंगे.

यह प्रक्रिया खत्म हो जाए तब आपको इस शीट की फोटो अपने वेबकैम के माध्यम से लेनी होगी. उसके बाद यह साइट आपके द्वारा अंकित अक्षरों की फोर्मेटिंग करेगी. जब वह प्रक्रिया समाप्त हो जाए तब आपके समक्ष आपकी ही हस्तलिपि वाला फोंट प्राप्त हो जाएगा. यदि आप चाहें तो अक्षरों का थोड़ा बहुत सम्पादन भी कर सकते हैं.
अंत में ‘Write By Hand’ बटन दबाकर अपना ईमेल लिख सकते हैं वह भी अपनी हस्तलिपि में, डिजिटली
  पिंकी  जाशी


रविवार, 14 अगस्त 2011

ब्लॉग पर अपनी निष्क्रियता व सक्रियता दिखाने वाला विजेट लगाये

by pinky joshi 1 टिप्पणियाँ


पिंकी जोशी 
अगर आप के पास ब्लॉग या कोई निजी या व्यावसायिक साईट है जहा पर आप अपने मित्रो से ऑनलाइन जुडे रहते है तो गूगल द्वारा पेश किया गया एक आकर्षक विडजेट जो आपके ऑनलाइन होने पर ब्लॉग या साईट पर आपकी ऑनलाइन सक्रियता को दर्शाता है जिससे ब्लॉग या साईट पर आने वाले पाठक को आपके ऑनलाइन होने की सूचना प्राप्त होती है । इस विडजेट को बहुत आसानी से तीन कदमो में अपने ब्लॉग पर लगाया जा सकता है


कदम#१ :- नीचे लिंक पर क्लिक करे व विडजेट प्राप्त करे

विडजेट पाने के लिए यहाँ क्लिक करे

कदम#२ :- इस लिंक पर क्लिक करे यहाँ पर क्लिक करने पर विडजेट प्रष्ट खुलेगा यहाँ से विडजेट कोड को माउस से सेलेक्ट कर कॉपी करे

कदम#३:- अपने ब्लॉगर खाते में प्रवेश करे अब design टेब पर क्लिक करे > add a page element पर क्लिक करे >Html/javascript पर क्लिक करे


 अब कॉपी किया गया पूरा कोड यहाँ पेस्ट कर परिवर्तन सेव करे । 


Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

TITLE

ENTER-TAB2-CONTENT-HERE

TITLE

ENTER-TAB3-CONTENT-HERE
 

तकनीकी दुनियाँ Copyright © 2010 Ashavalley is Designed by Piush trivedi